kapalbhati kaise kiya jata hai : कपालभाति प्राणायाम के 04 फायदे

कपालभाति कैसे किया जाता है / कपालभाति प्राणायाम के फायदे

जय हिंद दोस्तों

दोस्तो आज हम जानने वाले हैं कि kapalbhati kaise kiya jata hai इसे करने से क्या फायदा और नुकसान होता है और सबसे बड़ी बात कि यह किस समय करना चाहिए और कितने समय तक करनी चाहिए तो आइए जानते हैं कपालभांति करने का सही तरीका

कपालभाति प्राणायाम कौन ना करें

1.  गर्भवती महिला तो बिल्कुल ही ना करें

2. हाल ही में कोई सर्जरी कराई में कोई सर्जरी कराई हो वह कपालभाति ना करें

3. जिनको हर्निया हुआ हो वह ना वह ना वह ना ना करें

4. जिनको कुछ दिनों पहले या महीने पहले स्ट्रोक आया हो

कपालभाति प्राणायाम करने के फायदे

आज के आधुनिक युग में लगभग हर घड़ी हर घर का काम हो या  मार्केट का प्लास्टिक के बिना नहीं हो पाता इसके कारण से वातावरण में प्रदूषण की मात्रा बहुत अधिक बढ़ चुकी है  और दूषित वायु हमारे नाक के जरिए हमारे अंदर जा रहे हैं जो आगे चलकर हमारे लिए बहुत खतरा पैदा करने वाले हैं लेकिन अगर आप कपालभाति करते हैं तो कई सारे रोगों से बच सकते हैं और स्वस्थ रह सकते हैं  तो आइए जानते हैं कपालभाति करने के फायदे

1. कपालभाति करने से शरीर को पूरी तरह से शुद्धिकरण होती है

2. फेफड़ों को शुद्ध करता है करता है शुद्ध करता है और फेफड़ों में अधिक मात्रा में ऑक्सीजन क्षमता को बढ़ाता है

3. छात्रों के लिए यह योग बहुत जरूरी है क्योंकि इसको नियमित रूप से करने से हमारे आद करने
की क्षमता बढ़ता है

4. जिनको डायबिटीज हो वह इस योग को जरूर को जरूर करें क्योंकि इसे करने से आराम मिलता है

यह हमारे रक्त संचार को बढ़ाता है

कपालभाति प्राणायाम करने का सही समय

कपालभाति को प्रत्येक दिन आप सूर्य के निकलने के तुरंत बाद कर सकते हैं  और दोस्तों इसको रात में कदापि ना करें

अब हम जानते हैं कि kapalbhati kaise kiya jata hai

kapalbhati kaise kiya jata hai

दोस्तों कपालभाति करने करने के लिए सबसे पहले आप सांस बाहर की ओर निकालने निकालने और और जब आप सांस सांस बाहर निकाले तो आपका पेट अंदर जाना चाहिए नाम की बहार बहार और सही से बैठकर कर कर कर सकते हैं जिससे आपका छाती बाहर की ओर होनी चाहिए और कम से कम हर 2 सेकंड में आपको सांस को को छोड़नी सांस को को कम हर 2 सेकंड में आपको सांस को को छोड़नी सांस को को हर 2 सेकंड में आपको सांस को को छोड़नी सांस को को छोड़नी है ओर इस प्रक्रिया को आप को कम से कम 7 से 8 मिनट लगातार करनी है

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी दोस्तों आप इसको प्रत्येक दिन कीजिए और कपालभाति प्राणायाम का लाभ उठाइए जिससे आप और अपनों का अच्छी तरह से ख्याल रख सकते हैं जय हिंद दोस्तों

 

हमेशा स्वस्थ कैसे रहे

Leave a Comment